रूसी पर क्या खाएं, क्या न खाएं और रोग निवारण में सहायक उपाय

रूसी – Dandruff

बालों में रूसी (डेंड्रफ) होना आजकल एक आम समस्या हो गई है। यह स्वस्थ बालों की सबसे बड़ी शत्रु होती है। काले, लंबे और घने बाल होने के बावजूद रूसी से उनका आकर्षण खत्म हो जाता है। इस रोग में सिर खुजलाने, कंघी करने पर सफेद रंग के छोटे-छोटे कण बुरादे की तरह यहां-वहां फैले नजर आते हैं। यह एक छूत की (संक्रामक) बीमारी है, जो दूसरों की कंघी या सौंदर्य प्रसाधनों के इस्तेमाल से भी हो जाती है। जितनी जल्दी इसका संक्रमण होता है, उतनी ही रफ्तार से फैलती भी है। रूसी सूखी और तैलीय दो प्रकार की होती है। रूखे बालों में सूखी रूसी होती है, जिसमें सिर को खुजलाने से बालों पर नजर आने लगती है और नाखूनों में लग जाती है। बालों में बुरी तरह से चिपकी रहने वाली रूसी को तैलीय रूसी कहते हैं, जो पपड़ी बनकर सिर की त्वचा पर जमी रहती है।

कारण : रूसी होने के प्रमुख कारणों में सिर में रक्त संचार की गड़बड़ी, त्वचा की तेल ग्रंथियों का अधिक क्रियाशील होना, बालों में अधिक तेल लगाना, बालों की सफाई की ओर ध्यान न देना, सफाई के दौरान बालों में साबुन या शैम्पू के अंश रह जाना, रासायनिक हेयर डाई लगाना, असंतुलित भोजन खाना, रूसी वाले व्यक्ति के कंघे, हेयर ब्रश, तौलिए, तकिए का इस्तेमाल करना, रोजाना कंघी से बालों का व्यायाम न होना, घटिया रासायनिक तेल, साबुन, शैम्पू अधिक लगाना, बालों का संक्रमण, अधिक मानसिक तनाव आदि होते हैं।

Loading...

लक्षण : इस रोग के प्रमुख लक्षणों में भूसी के समान सफेद रंग के छोटे-छोटे कण बालों में यहां-वहां फैले दिखाई पड़ना, बालों का टूटना और झड़ना, पपड़ी जमने से बालों की जडों में हवा न पहुंचना, जिससे-कमजोर होकर बालों का टूटना, कंघी करने और खुजलाने पर भूसी झड़ना, खुजली चलना, बार-बार बेतहाशा खुजलाने से पैदा हुई गर्मी की वजह से बालों का कमजोर होकर झड़ना आदि देखने को मिलते हैं।

What to eat during Dandruff?

क्या खाएं

  • सादा, सुपाच्य, संतुलित, पौष्टिक आहार लें।
  • ककड़ी, गाजर, आंवला का रस सुबह-शाम पिएं।
  • चौलाई, ककड़ी, पत्तागोभी, गाजर, प्याज, मेथी, चुकंदर की सब्जी का सेवन करें।
  • दूध, दही, घी, मीठे फल खाएं।
  • चना, सोयाबीन, राजमा जैसी अधिक प्रोटीन युक्त चीजें खाएं।
  • गेहूं के पौधों का रस एक कप की मात्रा में सुबह नियमित पिएं।

What not to eat during Dandruff?

क्या न खाएं

  • भारी, गरिष्ठ, तले-भुने, तेज मिर्च-मसालेदार, असंतुलित भोजन न खाएं।
  • अधिक तैलीय भोजन से परहेज करें।
  • अचार, अमचूर, खटाई न खाएं।

Remedial Measures in Dandruff Prevention.

रोग निवारण में सहायक उपाय


What to do during Dandruff?

क्या करें

  • बालों की सफाई की ओर पूरा ध्यान दें।
  • एक कप दही में आधा कप बेसन फेंट कर बालों में मल-मल कर लगाएं। 2 घंटे बाद सिर धो लें।
  • आंवला, अरहर की दाल और रीठा बराबर मिलाकर सिर में मलें। 2 घंटे बाद धोकर साफ करें।
  • नहाने के एक घंटा पूर्व रोजाना नीबू के रस की सिर में मालिश करें।
  • नारियल का शुद्ध तेल बालों में नियमित रूप से लगाएं।

What not to do during Dandruff?

क्या न करें

  • सुगंधित तेलों का प्रयोग बालों में न करें।
  • अपना कंघा, हेयर ब्रुश, तौलिया, तकिया दूसरे को इस्तेमाल करने को न दें।
  • रूसी दूर करने में लापरवाही न बरतें।
  • रासायनिक हेयर डाई, शैम्पू आदि का प्रयोग न करें।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept