स्मरण शक्ति की कमी पर क्या खाएं, क्या न खाएं और रोग निवारण में सहायक उपाय

स्मरण शक्ति की कमी – Amnesia

आज के मशीनी जीवन में स्मरण शक्ति का कमजोर होना एक व्यापक व गंभीर समस्या बनती जा रही है। औसत दृष्टि से अधिकांश लोगों की स्मरण शक्ति लगभग एक जैसी होती है, लेकिन कुछ मेधावी व्यक्तियों की याद रखने की शक्ति आश्चर्यजनक भी होती है। अतः कहा जा सकता है कि स्मरण शक्ति एक अर्जित गुण है, जिसका कम या तेज होना या कर लेना बहुत कुछ हमारे ऊपर निर्भर करता है। वैज्ञानिकों का मानना है कि स्मरण शक्ति का हमारी रुचि के साथ गहरा संबंध है।

कारण : स्मरण शक्ति की कमी होने के प्रमुख कारणों में रुचि का अभाव, कार्यों को समायोजित ढंग से क्रमानुसार न करना, कार्य की अधिकता, कार्य के प्रति ऊब और उपेक्षा का भाव रखना, किसी बात को याद रखने की पूर्ण इच्छा का न होना, विषय को पूरे मनोयोगपूर्वक समझने का प्रयत्न न करना, बराबर चिंतित रहना, नशीले पदार्थों का सेवन, शारीरिक या मानसिक बीमारी, उम्र बढ़ने के कारण मस्तिष्क के तंत्रिका हार्मोन का घटना, अधिक मैथुन करना, मस्तिष्क का अविकसित होना, मस्तिष्क की जन्मजात विकृति, सिर में चोट लगना, पोषण की कमी से एनीमिया, शारीरिक क्षमता से अधिक कार्य करना, क्रोध, भय, चिंता, अनिद्रा, अधिक रक्तस्राव, रजोनिवृत्ति आदि होते हैं।

लक्षण : इस रोग के लक्षणों में पढ़ी, देखी, सुनी बातों का याद न रहना, किसी जगह वस्तु रखकर भूल जाना, पढ़कर याद करने की इच्छा न होना, अरुचि, आलस्य, चिड़चिड़ापन, कमजोरी, निराशा का भाव, घबराहट आदि देखने को मिलते हैं।

What to eat during Amnesia?

क्या खाएं

  • सुपाच्य, हलका, संतुलित, पौष्टिक आहार नियमित समय पर खाएं।
  • पत्तीदार सब्जियां, सलाद, अंडे, लहसुन, मछली, दूध, दही, दाल, पत्ता गोभी, फूल गोभी, सौंफ, गुड, आगरे का पेठा, तिल, पालक खाएं।
  • फलों में जामुन, स्ट्राबेरीज, नारियल, लीची, आम, सेब, संतरा, टमाटर और गाजर खाएं।
  • रात में भिगोई 6 बादाम सुबह निकालकर मिस्री के साथ पीस लें और बराबर की मात्रा में मक्खन के साथ रोजाना सुबह खाएं। ऊपर से एक कप दूध पिएं।
  • सुबह-शाम के भोजन में आंवले का मुरब्बा खाएं। भोजन के बाद गुड और तिल्ली से बना एक लड्डू या गजक का टुकड़ा चबा-चबा कर खाएं।
  • मक्खन, मिश्री और 5 काली मिर्च मिलाकर सुबह-शाम सेवन करें।
  • गुलकन्द, अखरोट, पिस्ता, गेहूं के पौधे का रस भी पिएं।

What not to eat during Amnesia?

क्या न खाएं

  • भारी, गरिष्ठ, तली, तेज मिर्च-मसालेदार चीजें न खाएं।
  • कड़क चाय, कॉफी, शराब से परहेज करें।
  • नशीले पदार्थ, तंबाकू, गुटखा, भांग, अफीम, गांजा आदि का सेवन न करें।
  • मसूर और उड़द की दाल न खाएं।

Remedial Measures in Amnesia Prevention.

रोग निवारण में सहायक उपाय


What to do during Amnesia?

क्या करें

  • रोजाना सुबह-शाम खुली हवा में घूमने जाएं।
  • रुचिकर व्यायाम नियमित रूप से करें।
  • याद रखनेवाली बातों को गहन रुचि लेकर, एकाग्रता और पूरे मनोयोग से याद करें।
  • भरपूर निद्रा लें।
  • याद करने वाले विषय को फार्मूले बनाकर, संक्षिप्त रूपरेखा तैयार करके क्रमानुसार याद करें और हर हफ्ते पुनरावृत्ति करते रहें।
  • कार्य की एकरसता तोड़कर, मन और मस्तिष्क को प्रसन्न रखने के लिए बीच-बीच में मनोरंजन भी करते रहें।

What not to do during Amnesia?

क्या न करें

  • एक बार में एक साथ बहुत-सी बातें याद न करें।
  • चिंता, क्रोध, भय, मानसिक तनाव के संवेगों को हावी न होने दें।
  • अपनी स्मरण शक्ति के विषय में हमेशा परेशान न रहें।
  • मैथुन में अधिक लिप्त न रहें।
  • दिन में अधिक समय तक न सोएं।
  • देर रात तक जागकर अध्ययन न करें।
  • अनुपयोगी, अनावश्यक, दूषित विचारों और तथ्यों को हमेशा याद न रखें। उन्हें समय-समय पर भूलते जाएं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.