Browsing Tag

कब्ज

कब्ज पर क्या खाएं, क्या न खाएं और रोग निवारण में सहायक उपाय

कब्ज – Constipation सुबह या आदत के अनुसार शाम को भी निश्चित समय पर शीघ्र और पूरी तरह शरीर से मल विसर्जन न होना कब्ज का रोग माना जाता है। यदा-कदा यह रोग सभी को हो जाता है, लेकिन इससे रोजाना परेशान रहना निश्चय ही स्वास्थ्य के लिए हानिकारक…
Read More...

गाजर के द्वारा बवासीर, मधुमेह, पीलिया, कब्ज, दस्त, जलोदर, स्थूलता आदि उदर रोग का उत्पत्ति, लक्षण और…

उदर रोग - Stomach Diseases पाचन क्रिया विकृत होने पर उदर रोगों की उत्पत्ति होती है। अनियमित भोजन करने और अधिक चटपटा, स्वादिष्ट, मिर्च-मसालों के खाद्य पदार्थों से पाचन क्रिया विकृत होती है। अधिक मात्रा में वसायुक्त खाद्य पदार्थ भी पाचन…
Read More...

कब्ज का घरेलू इलाज

कब्ज - Constipation What is the cause of Constipation? कब्ज होने का कारण क्या है। फल, हरी सब्जियों; सलाद आदि में विद्यमान रेशा मल त्याग हेतु आंत की प्रेरक गति के लिए आवश्यक है। भोजन में लगातार इनका सर्वथा अभाव या बिल्कुल कम मात्रा,…
Read More...

प्रवाहिका । पेचिश का आयुर्वेदिक उपचार

Home remedy for Bloody Flux or Dysentery In Hindi अतिसार और प्रवाहिका के अंतर को बहुत कम स्त्री-पुरुष जान पाते हैं। अतिसार (दस्त) और प्रवाहिका (पेचिश) दोनों में रोगी को बार-बार शौच के लिए जाना पड़ता है। मल बहुत जलीय रूप में वेग के साथ…
Read More...

भगंदर का घरेलू उपचार

Home remedy for Anal fistula In Hindi भगंदर बहुत कष्टदायक रोग है। भगंदर से पीड़ित रोगी न बिस्तर पर पीठ के बल लेट सकता है और न कुर्सी पर बैठकर कोई काम कर सकता है। सीढ़ियां चढ़ने-उतरने में भी रोगी को बहुत पीड़ा होती है। Why does Anal fistula…
Read More...

अर्श रोग । बवासीर का घरेलू नुस्खे

Home remedy for Hemorrhoids or Piles In Hindi अधिक समय तक कोष्ठबद्धता (कब्ज) की विकृति बनी रहे तो पुरीष (मल) अधिक शुष्क और कठोर हो जाता है। जब शुष्क और कठोर मल को जोर लगाकर निष्कासित करते हैं तो गुदा नली में छिल जाने से जख्म बन जाते हैं।…
Read More...

कोष्ठबद्धता । कब्ज का घरेलू नुस्खे

Home remedy for Constipation In Hindi कोष्ठबद्धता को सभी उदर रोगों की उत्पत्ति का कारण कहा जाए तो कोई अतिशयोक्ति न होगी। कोष्ठबद्धता के कारण उदर शूल, अम्ल पित्त, अजीर्ण, अरुचि, आध्मान (अफारा), रक्ताल्पता, यकृत विकृति, प्लीहा वृद्धि, कामला…
Read More...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept