मानसिक रोग को दूर करने के घरेलू उपाय (Home remedies for mental illness)

मानसिक रोग को दूर करने के घरेलू उपाय

मानसिक रोग इंसान के लिये एक बेहद गंभीर समस्या होती है।मानसिक रोग का प्रभाव मुख्य रुप से आपके लोगों के प्रति होने वाले व्यवहार, सोचने की शक्ति व आपके मूड पर पड़ता है।मानसिक रोग में तनाव, चिंता, पागलपन, दिमाग का भारी होना, बुरी चीज़ों की लत, या किसी बात का डिप्रेशन शामिल होता हैं।

मानसिक रोग से प्रभावित व्यक्ति काफी चिड़चिड़ा और बहकी-बहकी बातें करने लगता है। वह अपना मानसिक संतुलन खोने लगता है और ऐसे व्यक्ति की मानसिक कार्य की क्षमता धीरे-धीरे कम होने लगती है।

Loading...

आज जो महत्वपूर्ण जानकारी हम आपसे शेयर करने वाले हैं, उसमें मुख्य रुप से बताया जाएगा कि मानसिक संतुलन को ठीक करने के घरेलू नुस्ख़े कौन-कौन से हैं और यह भी बताया जाएगा कि आप किस प्रकार अपने दिमाग को शांत रख सकते हैं।

अपनी मानसिक समस्या के बारे में लोगों को बताइये

आपके साथ किस तरह की मानसिक समस्या चल रही है या आप किस वजह से तनाव में रहते हैं, इसके बारे में अपने दोस्तों और अपने परिवार को बताइये, उनके साथ सभी चीज़ों को शेयर कीजिए। जिससे कि वह आपकी मदद कर सकें और इस बारे में किसी अच्छे चिकित्सक से बात करिये। ऐसे लोग जो आपकी बातों को मजाक समझें। ऐसे लोगो से बिल्कुल भी बात ना करें।

शुरुआत के कारणों पर ध्यान दें

आपको अपने शुरुआती कारणों पर ध्यान देना है कि आखिर क्या वजह है, जिसके कारण आप असहज महसूस कर रहे हैं। वजह जानने की कोशिश करें कि आखिर ऐसा क्या है, जो आपके दिमाग को प्रभावित कर रहा है। अगर आप इन शुरुआती लक्षण को अच्छे से समझ पाते हो तो आपके लिए इसका इलाज करने में आसानी होगी।

आपके व्यवहार में आने वाले बदलावों पर ध्यान दें

आप अपने व्यवहारों में आने वाले बदलावों पर ध्यान दें। जानने कि कोशिश करें कि आप कब अच्छा और कब बुरा महसूस कर रहे हैं। क्या-क्या चीज़े हैं जो आपके दिमाग को प्रभावित कर रही है।
उन सभी चीज़ों को ध्यान में रखकर आप अपने दिमाग को प्रभावित करने वाली परेशानियों के बारे में पहले ही जानकर उनसे दूर रहने की कोशिश कर सकते हैं।

अकेले ना रहें

जब आपको तनाव जैसी समस्या हो तो आप कभी भी अकेले ना रहें, हमेशा किसी व्यक्ति के साथ में रहें या किसी काम को करते रहें। तनाव जैसी समस्या में कभी भी अकेले नहीं रहना चाहिए।

मानसिक रोग के लिए लोगों से जुड़ना शुरू करें

मानसिक तनाव के होने पर आपको अपनें आसपास के लोगों, दोस्तों व रिश्तेदारों से बात और हँसी-मज़ाक करते रहना चाहिए, जिससे आप अपने दिमाग को शांत महसूस करेंगे और नकारात्मक विचार आपके दिमाग में जगह नहीं ले पायेंगे। आप दिमाग को शांत रखने के लिए घूमने जाइये। रोज क़िताबें पढ़िये या जितना हो सकें, बाहर निकल कर नये लोगों से बातें करना शुरू करिये इससे आपके आत्मसम्मान में वृद्धि होगी।

अपनें आसपास की चीजों पर ध्यान दीजिये

आपका तनाव में होने के कारण यह भी हो सकता है कि आप किसी बड़ी परेशानी से गुजर रहें हो, लेकिन कोशिश करिये अपने आसपास की दुनिया को देखने की, हो सकता है आपको कुछ ऐसा दिखे जिसकी समस्या आपसे कहीं ज्यादा हो और ऐसे लोगों की खुद से तुलना कीजिए। आपका तनाव अपने आप कम होने लगेगा।

मानसिक रोग को दूर करने के लिये अपनाए ये तरीके

1. प्राकृतिक चीजों के आसपास रहें, प्राकृतिक चीजों के आसपास रहें, इससे आपका मूड ताज़ा रहता है।

2. वह करें जो आपको अच्छा लगता है, वह चीजें करिये जिसे करने में आपको बहुत अच्छा लगता है, जिसे करते वक्त आप सभी चीजों को भूल जाते हैं, जैसे गाने सुनना, स्पोर्ट्स, या किताबें पढ़ना।

मानसिक रोग को दूर करने लिए अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाएं

1. अच्छी नींद ले :- एक अच्छी नींद आपके दिमाग को शांत रखती है। रोज कम से कम 8 घण्टे की नींद आपके मुड को ताजा रखती है।

2. शारीरिक मेहनत कीजिए :- शारीरिक मेहनत से आपके खून की मात्रा सही रहती है, जिससे दिमाग शांत रहता है। व्यायाम करने से आत्म-सम्मान में वृद्धि होती है, जो कि एक मानसिक रोगी के लिये काफी लाभदायक है।

3. धूम्रपान का सेवन ना करें :- तनाव कम करने के लिये कुछ लोग धूम्रपान करने लग जाते हैं। ऐसा बिल्कुल मत कीजिए, धूम्रपान आपकी सोचने की शक्ति को कम करता है। मानसिक रोगी के लिये धूम्रपान काफी हानिकारक चीज है।

मानसिक रोग अगर अधिक है, तो मानसिक रोग विशेषज्ञ से बात करें

अगर मानसिक रोग काफी ज्यादा आगे बढ़ चुका है, तो इसके लिए किसी अच्छे मानसिक रोग विशेषज्ञ से बात करें या किसी मानसिक रोगों को दूर करने वाली संस्था से इस बारे में बात करें।

 

अगर आपको ये जानकारी एवं लेख अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें ।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept