प्राथमिक चिकित्सा । दम घुटने का घरेलू इलाज

दम घुटना – Asphyxia


What is the cause of Asphyxia?

Loading...

दम घुटना होने का कारण क्या है।

फेफड़ों में पर्याप्त मात्रा में ताजी हवा. न पहुंचने से मस्तिष्क व हृदय आदि महत्त्वपूर्ण अंगों में ऑक्सीजन की कमी होने से उत्पन्न दशा को दम घुटना कहा जाता है।

पानी में डूबने, गला घोंटने, गले के अंदर सूजन होने तथा विषैली गैसों के धुएं के कारण फेफड़ों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन का अभाव हो जाता है। विष के प्रभाव तथा बिजली का झटका लगने से भी शरीर के आवश्यक अंगों में ऑक्सीजन की कमी हो सकती है।

What are symptoms of Asphyxia?

दम घुटना के लक्षण क्या है।

चक्कर आना, होंठ, नाक, कान व नाखूनों में पीलापन व बाद में नीलापन, नाड़ी की गति अनियमित होना, गरदन की शिराओं का फूल जाना व चेहरा नीला होना इस रोग के प्रमुख लक्षण हैं।

Home Remedies for Asphyxia.

दम घुटना का घरेलू चिकित्सा।

  • कारण दूर करें व रोगी को पर्याप्त हवा वाले स्थान पर रखें।
  • श्वास प्रणाली मार्ग में यदि कोई रुकावट हो तो उसे दूर करें।
  • आवश्यक हो तो कृत्रिम श्वास दें।
  • रोगी को तुरंत अस्पताल ले जाएं।

दम घुटने पर विशिष्ट चिकित्सा

पानी में डूबने पर

रोगी को पेट के बल लिटाएं। कमर को ऊपर उठाएं ताकि फेफड़ों से पानी बाहर निकल जाए । पेट के नीचे मटका या चद्दर आदि कोई कपड़ा तह करके रखने से पानी सरलता से व शीघ्रता से पेट से निकल जाता है।

गला घोटना व फांसी लगाना

रोगी की रस्सियां ढीली करें और रोगी को जमीन पर लिटा दें। कृत्रिम श्वास दें और रोगी को अस्पताल भेजें।

बिजली का झटका लगना

बिजली की आपूर्ति बंद करें या लकड़ी के डंडे की सहायता से रोगी को बिजली के तार/स्विच आदि से अलग करें। आवश्यक हो तो कृत्रिम श्वास दें।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept